Jaipur Tour के दौरान आप इन Historical Tourist Places को देखना ना भूले 

Jaipur Tour के दौरान आप इन Historical Tourist Places को देखना ना भूले

Jaipur Tour के दौरान आप इन Historical Tourist Places को देखना ना भूले 

यदि आप घूमने का शौक रखते हैं और आप जयपुर ही नहीं गए तो समझ लो आपने अभी तक हिंदुस्तान की सबसे प्यारी जगहों में से जयपुर नहीं देखा हैं। Jaipur के बारे में तो यहाँ तक कहा जाता हैं कि पूरा भारत घूम लिए लेकिन Jaipur, Tour नहीं किया तो कुछ नहीं देखा कुछ नहीं घूमे आप आप। Jaipur, भारत के राजस्थान राज्य में है जो कि दिल्ली से लगभग 300 km की दुरी पर स्थित प्यार शहर है और राजस्थान की राजधानी भी Jaipur, ही है, जिसे पिंक सिटी के नाम से भी जाना जाता है, Jaipur, की ज्यादातर ऐतिहासिक इमारते आपको गुलाबी रंग की देखने को मिलती है, इसलिए Jaipur, को “गुलाबी शहर” भी कहा जाता हैं।

Jaipur के महलों की सुन्दरता व वास्तुकला देख आप जिंदगी भर इस शहर को नहीं भूल पाएंगे।Jaipur राजाओ का शहर भी रहा हैं तो यहाँ आकर आपको राजाओ के जीवन को पास से जानने का अवसर मिलेगा। इस लिए जब आप घूमने का प्लान बनाये तो Jaipur Tour के लिए जरूर बनाये और हमारी इस पोस्ट के द्वारा जाने की Tour के दौरान कहा- कहा जाये।

1. Jal Mahal

जल महल का नाम ही बताता हैं कि यह किला जल के बीचो-बीच बना खड़ा हैं, इसलिए आप जब भी Jaipur Tour पर आये तो इस जल महल को देखना ना भूले। पाँच मंजिला यह महल सागर के बीच में बना हैं, जब यह झील पूरी तरह भर जाती हैं तो इस महल की चार मंजिल जलमग्न हो जाती है, सिर्फ ऊपर की मंजिल ही दिखाई देती हैं। वैसे भी महल के अन्दर प्रवेश करना तो मना हैं, लेकिन आप नाव के द्वारा झील में जाकर महल की फोटो ले सकते हैं। जल महल घूमने का प्रतिदिन का समय सुबह 6 से शाम 6 बजे तक रहता है।  

2. Hawa Mahal

Jaipur Tour के दौरान सबसे प्रसिद्ध दर्शन स्थ्लो हवा महल जरूर देखे। पूरी दुनिया से जितने भी लोग घूमने Jaipur आते हैं, उनकी List में हवा महल घूमने का प्लान जरूर होता हैं। महाराजा सवाई प्रताप सिंह ने इस महल का निर्माण सन् 1799 में कराया था। लाल व गुलाबी बलुआ पत्थरों से निर्मित इस किले में 953 छोटी खिड़कियाँ हैं, वो इस लिए हवा आराम से महल में प्रवेश कर सके। इस किले को बनाने में कुशल तकनीकी व बेहतरीन शिल्पकला का इस्तेमाल किया गया हैं। पाँच मंजिला इस दुर्ग में एक मंजिले से दूसरी मंजिल में जाने के लिए कोई भी सीड़ीयां नहीं हैं और ढलान के सहारे ही एक मंजिल से दूसरी मंजिल में प्रवेश किया जाता हैं। हवा महल घूमने का समय सुबह 9 से शाम 4:30 बजे तक रहता है।  

 

 3. Amer Fort (आंबेर किला)

राजस्थान के Jaipur Tour पर आप आंबेर किले को का दर्शन जरूर करे, इस किले को “आमेर के किले” के नाम से जाना जाता हैं यह किला Jaipur सेण्टर से लगभग 11 किलोमीटर दूर स्थित हैं। राजा मान सिंह ने ही आंबेर किले को सन् 1592 में बनवाया था। आपको बतादे राजा मान सिंह के बाद जयपुर शहर की स्थपना राजा जयसिंह द्वितीय ने इस महल के रूप में की थी। आमेर का किला चार भागों में बना हैं जिनको दीवान-ए-आम, शीश महल, सुख मंदिर व केसर क्यारी के नाम से जाना जाता हैं।

इस किले में प्रवेश करने के लिए Tourist को सूरज पोल से जाना होता हैं जिसे सूर्य द्वार कहते हैं, इसके आलावा और भी इस किले के तीन और द्वार हैं। आमेर या आंबेर किला एक बेहतरीन तरह की वास्तुकला का जीता-जागता उदहारण हैं, इस किला का निर्माण संगमरमर व लाल बलुआ पत्थरों से मिलकर बना हुआ हैं। यदि आप Jaipur Tour पर आये है तो इस किले को घूमना ना भूले। अम्बर किले के खुलने का समय सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक रहता है। 

 

4. Nahargarh Fort

अरावली पर्वतो में बने इस किले को नाहरगढ़ किला इस लिए भी कहते है क्योकि इस किले से पूरा जयपुर देखा जा सकता हैं। नाहरगढ़ किले का निर्माण महाराजा जयसिंह के द्वारा ही सन् 1734 में कराया गया था। पहले इस किले को सुदर्शनगढ़ नाम दिया गया था जिसको बाद में राजा नाहर सिंह के नाम पर नाहरगढ़ कर दिया गया। 

नाहरगढ़ के इस किले को आमेर किले व जयगढ़ किले के साथ मिलकर ऐसे ही बनाया गया था जिससे कि यह Jaipur city के चारों और एक रक्षा कवच तैयार हो सके। यह महल इंडो-यूरोपियन स्टाइल में बना हैं, और पुरे साल दर्शकों के मनोरंजन का केंद्र बना रहता हैं। बॉलीवुड फ़िल्म जैसे “रंग दे बसंती” व “शुद्ध देशी रोमांस” की शूटिंग भी इस किले में हो चुकी हैं।नाहरगढ़ इस किले के खुलने का समय सुबह 9:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक रहता है। 

 

5. City Palace, Jaipur

सिटी पैलेस Jaipur Tour के दौरान घुमने का एक बहुत ही प्रसिद्ध स्थल हैं, City Palace को “जयपुर का दिल” भी कहा जाता हैं। इसका निर्माण आमेर के ही राजा तथा जयपुर को बसाने वाले जय सिंह द्वितीय ने सन् 1729 से 1732 में कराया था। महल के अन्दर जाकर आपको ऐसा महसूस होने लगेगा कि जैसे आप किसी अलग ही दुनिया में आ गए हो । यहाँ महल के अंदर आपको गोविन्द देव जी मंदिर, और चन्द्र महल, दीवान-ए-ख़ास, महारानी का पैलेस, भग्गी खाना, दीवान-ए-आम, प्रीतम निवास चौक जैसे आदि नजारे देखने को मिलते हैं। सिटी पैलेस के खुलने का समय सुबह 9:30 से शाम 5 बजे तक है। 

 

6. Jantar-Mantar, Jaipur

जंतर मंतर का निर्माण Jaipur City के संस्थापक राजा सवाई जय सिंह द्वितीय द्वारा कराया गया था। इस बेधशाला का निर्माण सन् 1734 में पूरा हो चूका था। जयपुर के इस स्थल जंतर-मंतर को यूनेस्को की विश्व विरासत में भी शामिल किया गया हैं। इसके निर्माण का मुख्य उद्देश्य खगोल शास्त्र की जानकारी प्राप्त करके अन्तरिक्ष व समय के बारे में अनुमान लगाकर जानकारी इकट्ठा करना होता था। राजा जय सिंह द्वितीय ने Jaipur के आलावा, नई दिल्ली, वाराणसी, मथुरा, और उज्जैन में भी जंतर-मंतर जैसे शोध संस्थानों का निर्माण कराया था। 

जंतर-मंतर में वास्तिविकता से रुबरुह करने वाली अद्भुत चीज हैं, जो हमे बताता हैं कि कैसे बिना तकनीक के भी पहले समय में ऐसी अचंभित करने वाली कलाकृति बनायीं जाती थी। Jaipur Tour के दौरान जंतर-मंतर घूमना आप कभी ना भूलने वाला तथा बेहद ही सुखद अनुभव हो सकता हैं। जंतर-मंतर के खुलने का समय सुबह 9 बजे से शाम 4:30 तक का रहता है।  

इसे भी पढ़े: अगर आप hill station tour Plan कर रहे है तो Sikkim tour जरूर करे 

इसे भी पढ़े: Nainital Tour के दौरान आपने इन 10 जगहों का दीदार नहीं किया तो..

इसे भी पढ़े: Rishikesh Tour: Weekend Special Uttarakhand Hill Station Monsoon Tour

Leave a Reply

Your email address will not be published.