Cricket Match: भारत बनाम पाकिस्तान एशिया कप सीरीज का 15 साल तक का क्रिकेट मैच स्कोर का हाल

भारत बनाम पाकिस्तान एशिया कप सीरीज का 15 साल तक का क्रिकेट मैच स्कोर का हाल

भारत बनाम पाकिस्तान 15 साल का Cricket Match एशिया कप सीरीज का हाल  

जैसा की आप जानते है Cricket, भारत और पाकिस्तान जैसे देशो में बहुत ही ज्यादा लोक प्रिय है परन्तु जब दोनों ही देशो का आपस में Cricket Match होता है तब वह Cricket Match बड़ा ही रोमांचक बन जाता है तो आज हम आपको अंतिम 15 वर्षो के एशिया कप सीरीज का स्कोर बताने वाले है कि किसमें किसका परडा रहा भारी किसने कितने रन बनाये और किस देश में खेला गया भारत पाकिस्तान के बीच ये Cricket Match, कौन सा देश रहा है ऊपर इन सभी बातो की जानकारी आज हम आपको देंगे।

2008 पाकिस्तान में भारत 6 विकेट से जीता

2004 में शतक लगाने के बाद शोएब मलिक ने फिर से कराची में घरेलू मैदान पर एक बार फिर से भारतीय गेंदबाजों की कमर तोड़ दी। कप्तान मलिक ने पाकिस्तान के लिए पारी में शोएब मलिक की बल्लेबाजी ने 119 गेंदों में 16 चौकों और एक छक्के की मदद से 125 रन बनाए। जिसमे यूनुस खान ने भी शानदार अर्धशतक जड़ा था। वही पाकिस्तान की टीम ने 50 ओवरों में 299/4 का स्कोर बनाया था।

उस समय ये लक्ष्य बड़ा मन जाता था तो इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत की शुरुआत खराब रही और गौतम गंभीर सिर्फ 12 रन पर आउट हो गए। लेकिन वीरेंद्र सहवाग और सुरेश रैना ने 198 रनों की साझेदारी की लम्बी पारी खेली और मैच को एकतरफा बना दिया। वीरेन्द्र सहवाग ने 95 गेंदों में 119 रन बनाए, जबकि व्ही रैना ने 69 में 84 रन बनाए। और युवराज सिंह (48), एमएस धोनी (26 *) की अहम पारियों के दम पर भारत 6 विकेट से जीत गया।

 

2010 में श्रीलंका में भारत-पाकिस्तान से 3 विकेट से जीता

यह मुकाबला रोंगटे खड़े कर देने वाला था, इस Cricket Match में पाकिस्तान ने सलमान बट्ट (74) और कामरान अकमल (51) की पारी के दम पर पाकिस्तान ने 267 रन बनाए। और दूसरी और भारत के लिए प्रवीण कुमार ने 3, जहीन खान और हरभजन सिंह ने 2-2 विकेट लिए थे। जवाब में भारत को सहवाग के रूप में पहला झटका लगा, लेकिन गौतम गंभीर (83) और एमएस धोनी ने (56) रन की हाफ सेंचुरी जड़ते हुए टीम की वापसी करा दी। रोहित शर्मा ने 22 और सुरेश रैना ने 34 रन की पारी खेलते हुए टीम का लक्ष्य के करीब तक पहुंचाया तो वही हरभजन सिंह (नाबाद 15 रन) ने एक गेंद शेष थी तब आमिर को छक्का उड़ाते हुए मैच को जीत दिला दी।

 

2012 में बांग्लादेश में भारत ने 6 विकेट से जीता

ढाका में पाकिस्तान ने एक बार फिर एशिया कप में भारत के खिलाफ 300 रन का आंकड़ा पार किया था। सलामी खिलाडी मोहम्मद हफीज और नासिर जमशेद ने भारतीय गेंदबाजी की कमर को तोड़ दिया। इन दोनों ने शतक जमाए और शुरुआती पार्टनरशिप के लिए 224 रनों की साझेदारी की। यूनुस खान ने 34 गेंदों में 52 रनों की पारी खेलकर पाकिस्तान के स्कोर को 50 ओवरों में 329/6 पर लाकर खड़ा कर दिया। इतने बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने सलामी बल्लेबाज के रु में गंभीर को शून्य के स्कोर पर खो दिया। व्ही फिर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली की जोड़ी ने भारतीय सेना को उबार लिया। सचिन अर्धशतक पूरा करने के बाद आउट हो गए, तथा कोहली ने पाकिस्तान के हर गेंदबाज की जमकर धुनाई की। कोहली को और रोहित शर्मा के (68) का साथ मिला तो मिलकर खूब रन बरसाए। कोहली ने 148 गेंदों बनाये (22 चौके और एक छक्का) में 183 ठोके, जो कि कोहली का आज भी वनडे का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। आखिर में सुरेश रैना ने और एमएस धोनी ने 13 गेंद शेष रहते भारत को जीत दिला दी। सुरेश रैना ने 12 और धोनी ने 4 रन बनाकर नाबाद रहे।

 

2014 में बांग्लादेश में पाकिस्तान 1 विकेट से जीता

भारतीय टीम तीन बल्लेबाजों द्वारा अर्धशतक बनाने के बाद भी 2014 में ढाका में पाकिस्तान के खिलाफ अपने 50 ओवरों में मात्र 245/8 रन ही बना सका। रोहित  (56), अंबाती रायुडू (58) और जडेजा (52) ने अच्छी बैटिंग की थी। और सईद अजमल (3/40 ) ने जबरदस्त बॉलिंग की थी, मोहम्मद हफीज और मोहम्मद तल्हा ने 2-2 विकेट लिए थे। और फिर पाकिस्तान के लिए हफीज ने 117 गेंदों में 75 रन बनाकर पारी को मजबूती दी। एक और से विकेट गिर रहे थे तो वह फिर भी खड़े रहे। अहमद शहजाद (42) और सोहैब मकसूद (38) के बाद फिर शाहिद अफरीदी ने 18 गेंदों में 34 रनों की बेहतरीन पारी खेली, जिसमें अंतिम ओवर में आर अश्विन की गेंद पर लगातार दो छक्के शामिल थे, और पाकिस्तान को मात्र दो गेंद शेष रहते पर भी जीत दिला दी।

 

2016 में बांग्लादेश में भारत 5 विकेट से जीता

ढाका में भारतीय गेंदबाजों ने कहर बरसाया और पाकिस्तान को सिर्फ 83 रन पर ही आउट कर दिया। क्योकि T20 सीरीज थी ये जिसमे हार्दिक पांड्या मैच के हीरो थे। उन्होंने 3.3 ओवर में सिर्फ आठ रन देकर 3 विकेट चटकाए।और वही रविंद्र जडेजा ने 2, जबकि आशीष नेहरा, जसप्रीत बुमराह और युवराज सिंह सभी ने एक-एक विकेट लिया था। लक्ष्य छोटा होने के कारण लग रहा था भारत आसानी से जीत जाएगा, लेकिन मोहम्मद आमिर ने ऐसा बिलकुल नहीं होने दिया। उन्होंने रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे और सुरेश रैना के विकेट लेते हुए भारत का स्कोर 3/8 पर रोक सा दिया था। हालांकि, तभी विराट कोहली (51 गेंदों में 49 रन) ने एक बार फिर अपनी काबिलियत दिखाई और बेजोड़ पारी खेलते हुए भारत की वापसी करा दी। और आखिरी में एमएस धोनी और युवराज सिंह ने 27 गेंद शेष रहने पर भी भारत को जीत दिला दी।

 

2018 में दुबई में भारत ने 9 विकेट से मैच जीता 

भारत ने एक बार फिर पाकिस्तान पर दबदबे वाली जीत हासिल की। भारतीय गेंदबाज़ बुमराह, चहल और कुलदीप ने दो-दो विकेट चटकाए, जिससे भारत ने पाकिस्तान को मात्र 7 विकेट पर 237 रन पर ही रोक दिया। जवाब मे भारतीय सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा और शिखर धवन ने शतक जमाये। और भारत ने मात्र 39.3 ओवर में 9 विकेट से यह Cricket Match अपने नाम किया। तथा रोहित ने नाबाद 111 रन की पारी के दौरान 7 चौके और 4 छक्के लगे थे, जबकि शिखर धवन ने 100 गेंदों में 16 चौके और 2 छक्के लगाए थे, 114 रन की बड़ी पारी खेली थी।

इसे भी पढ़े : Dhoni की मृतक प्रेमिका प्रियंका झा की तस्वीरे सामने आई, जिसकी खुबसूरती के सामने ऐश्वर्या राय भी कुछ नहीं

इसे भी पढ़े : Nainital Tour के दौरान आपने इन 10 जगहों का दीदार नहीं किया तो..

इसे भी पढ़े : क्यों जिंदगी भर पत्नियां अपने पति से छिपाती है ये बाते

Leave a Reply

Your email address will not be published.