Agneepath Scheme:अग्निपथ योजना से आखिर कैसे कमाए 60 रूपये महीना,

अग्निपथ योजना से आखिर कैसे कमाए 60 रूपये महीना

‘अग्निपथ योजना’ को लेकर देश के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन और कई शहरो को तो जला दिया गया है. इस योजना को लेकर युवाओं में बहुत बड़ा भ्रम है. जिसमे कुछ सवालों के जरिये हम इस स्कीम को समझायेंगे हैं…

 

प्रश्न 1. अग्निपथ योजना क्या है, इसके क्या लाभ हैं?

उत्तर- भारतीय सशस्त्र बलों की भर्ती से संबंधित है यह ‘अग्निपथ योजना’ जिसके द्वारा चयनित उम्मीदवारों को 4 साल की अवधि के लिए थल सेना, वायु सेना और नौसेना में अग्निवीर के रूप में काम करने का मौका मिल रहा है. 4 साल की अवधि पूरी होने पर, ये अग्निवीर एक अच्छे कुशल सैनिक के साथ एक एक अनुशासित वर्कर होंगे जिसका प्रमाण पत्र भी होगा| इस लिए इन अग्निवीर को हर जगह प्राथमिकता मिलेगी. और इन अग्निवीरो में से 25 प्रतिशत अग्निवीरों को सशस्त्र बलों में नियमित संवर्ग के रूप में नामांकित होने के लिए चुना जाएगा. यह योजना देश की सेवा करने के इच्छुक भारतीय युवाओं को कम अवधि के लिए सेना में भर्ती होने का अवसर प्रदान करती है. अग्निपथ योजना अग्निवीर वाले युवाओं की प्रोफाइल को बेहतर करती है| 

 

प्रश्न 2. अग्निपथ योजना के उद्देश्य क्या हैं?

उत्तर- 1) अग्निपथ योजना द्वारा सेना की युवा छवि को बढ़ाना ताकि वे जोखिम लेने की बेहतर क्षमता के साथ हर समय अपने सर्वश्रेष्ठ और युद्ध कौशल से लैस हों| 

2) अग्निपथ योजना के तहत देश के तकनीकी संस्थानों का लाभ उठाते हुए उन्नत तकनीकी सीमाओं से लैस, उभरती हुई आधुनिक तकनीकों का प्रभावी ढंग से उपयोग करने| 

3) जो युवा राष्ट्र की सेवा करना चाहते है तो थोड़े समय के लिए वर्दी में राष्ट्र की सेवा करने का अवसर प्रदान करना| 

4) अग्निपथ योजना द्वारा युवाओं को अग्निवीर वाला जोश, साहस, सौहार्द, प्रतिबद्धता और समूह की भावना को भरना| 

5) युवाओं को अनुशासन, जोश, प्रेरणा और कार्य-कुशलता जैसी योग्यताओं एवं गुणों से भरना ही अग्निपथ योजना का उद्देश्य है| 

इसे भी पढ़े:सरकारी नौकरी का खुला भंडार कही आप ये मौका चूक ना जाये जल्दी से देखे

प्रश्न 3. अग्निपथ योजना के द्वारा अग्निवीर को दिया जाने वाला वित्तीय पैकेज क्या है?

उत्तर- पुरे एक साल का वार्षिक पैकेज:-

  • प्रथम वर्ष का पैकेज लगभग 4.76 लाख रुपये दिए जायेंगे| 
  • चौथे वर्ष में लगभग 6.92 लाख रुपये तक| 
  •  राशन, पोशाक, यात्रा भत्ते जो भी जैसा भी लागू हो|

सेवानिधि

  • मासिक वेतन का 30% अग्निवीर द्वारा अंशदान किया जाएगा|
  • सरकार द्वारा इस अंशदान (Fand) के समान राशि का मिलान एवं अंशदान|
  • 10.04 लाख रुपये के कोष के अलावा प्राप्त ब्याज, जिसपर चार साल बाद आयकर में भी  छूट होगी|

 

मृत्यु हो जाने की स्थिति में मुआवजा

  • 48 लाख रुपये का गैर-अंशदायी जीवन बीमा कवर|
  • सेवा के दौरान मौत हो जाने पर 44 लाख रुपये की अतिरिक्त राशि|

 

दिव्यांग हो जाने की स्थिति में मुआवजा

  • चिकित्सा अधिकारियो द्वारा निर्धारित दिव्यांगता के प्रतिशत के आधार पर ही मुआवजा दिया जायेगा|  
  • 100%/75%/ दिव्यांगता के लिए क्रमशः 44/25/15 लाख रुपये की एकमुश्त धनराशि निर्धारित की गई| 

ध्यान देने योग्य जरूरी बात:- अग्निपथ योजना के द्वारा आपको पूरी जिन्दगी में एक काम करने की जरूरत नहीं आप एक लाइफ में कई काम करके मजे कर सकते हो| दूसरा 4 साल रोजगार करके तनख्वा तो पते ही हो साथ में 21 लाख रूपये मिलते है जो लगभग 38 लाख रूपये महीना वो भी मिलता है अब ये समझिये 60 हजार रूपये आपको प्रतिमाह वेतन मिल रहा है| 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.